self improvement (self knowlege)

​सफल और असफल लोगों में फर्क


मित्रों यूँ देखा जाये तो दुनियां में हर व्यक्ति सफल होने का प्रयास करता है, आगे बढ़ने का प्रयास करता है, पैसा कमाने का प्रयास करता है लेकिन कुछ चुनिंदा लोग ही ऐसे होते हैं जो अपनी मंजिल प्राप्त करते हैं और दुनियाँ को एक सीख देकर जाते हैं लेकिन ज्यादातर व्यक्तियों को असफलता ही मिलती है क्यूंकि वो अपने लक्ष्य को अपना 100% नहीं दे पाते या उनका कोई लक्ष्य ही नहीं होता। ऐसे लोग जीवन भर केवल संघर्ष ही करते रह जाते हैं। हममें से ज्यादातर लोग ऐसे होंगे जो सफल होना चाहते हैं पर किन्हीं कारणों की वजह से वो अपने लक्ष्य से दूर हैं। आज हम इस आर्टिकल में कुछ ऐसे ही topics पर चर्चा करेंगे जिनकी वजह से हम अपनी मंजिल से दूर हैं। क्या हैं वो कारण जो सफल और असफल व्यक्तियों में एक फासला पैदा करते हैं, एक फर्क पैदा करते हैं? ऐसा क्या है जो सफल व्यक्ति कर लेता है और असफल नहीं?
SELF IMPROVEMENT/MOTIVATION TIPS
आत्मसुधार(Self Improvement)- हर इंसान में कुछ ना कुछ कमियाँ जरूर होती हैं। ऐसा शायद ही कोई इंसान संसार में होगा जिसके अंदर कोई कमी ना हो। सफल व्यक्ति अपनी कमियों को ढूंढते हैं और लगातार उन्हें दूर करने की कोशिश करते हैं, अपना आत्मसुधार करते हैं वहीँ दूसरी ओर असफल व्यक्ति कभी अपनी कमियों पर ध्यान नहीं देते और हमेशा खुद को बुद्धिमान समझते हैं और इसी घमंड की वजह से वो सफलता से दूर रह जाते हैं। वैसे अपनी कमियों का आंकलन करना कोई आसान काम नहीं है लेकिन सफल वही है जो आत्मसुधार कर सके।
निर्णय लेने की क्षमता(Decision Taking Ability)- आपके निर्णय और फैसले ही आपकी सफलता के जिम्मेदार होते हैं। सफल व्यक्ति सही समय पर सही निर्णय लेते हैं जबकि असफल व्यक्ति हमेशा यही सोचता रहता कि दूसरे लोग क्या सोचेंगे और जीवन में सही निर्णय नहीं ले पाते। तो आपको चाहिए अपने निर्णय लेने की क्षमता को बढ़ाएं और घबराएं नहीं।
अपनी गलतियों की जिम्मेदारी लो- अक्सर देखा जाता है कि ज्यादातर लोग अपनी गलती होने के बावजूद भी खुद की गलती मानने से कतराते हैं जो अपनी गलती की जिम्मेदारी दूसरों पर थोपने की कोशिश करते हैं लेकिन सफल व्यक्ति हमेशा अपनी गलतियों को मानते हैं और उन्हें दूर करने का प्रयास करते हैं यही कारण है कि वो बहुत जल्द खुद में सुधार करके मंजिल की ओर बढ़ते जाते हैं।
दृंढ संकल्प- सफल लोग रास्ते बदलते हैं मंजिल नहीं जबकि असफल लोग एक ही रस्ते में कई मंजिलें बदल लेते हैं। सफल लोग मजबूत संकल्प के साथ आगे बढ़ते हैं और रास्ते में आने वाली परेशानियों का सामना करते हैं और मुश्किलों का हल ढूंढने की कोशिश करते हैं जबकि असफल लोग परेशानियों से घबरा जाते हैं और अपनी मंजिल ही बदल बैठते हैं और यही उनकी हार का मुख्य कारण भी है।
कम बोलना और ज्यादा सुनना- किसी महापुरुष ने कहा है कि जब हम सुनते हैं तो हम कुछ नया सीख रहे होते हैं और जब हम बोलते हैं तो हम कुछ बातें दोहरा रहे होते हैं जिन्हें हम पहले से जानते हैं। तो कोशिश करें कि ज्यादा सुनें और कम बोलें, ये सफलता का मुख्य कारण है वहीं असफल लोग ये मान लेते हैं कि वो बहुत बुद्धिमान हैं और सबकुछ जानते हैं और इसी घमंड में वो कुछ सीखने की कोशिश नहीं करते।
लगातार प्रयास(Never Give up)- ये जरुरी नहीं कि आप जो काम कर रहे हैं वो बिलकुल सही ही हो और ये भी निश्चित नहीं कि आप सफल होंगे या नहीं। लेकिन लगातार प्रयास एक ना एक दिन आपको सफल बना ही देगा। सफल लोग कभी हार नहीं मानते और लगातार हो रही विफलताओं के बावजूद भी आगे बढ़ने की कोशिश करते रहते हैं वहीँ असफल लोग एक बार विफल होने के बाद उम्मीद छोड़ देते हैं और हार मान लेते हैं|
Motivational Writer शिव खेड़ा का कहना है कि-“सफल लोग कुछ अलग काम नहीं करते वो बस अलग तरीके से काम करते हैं”, ये बात बिलकुल सत्य है। हर इंसान के अंदर समान प्रतिभा है लेकिन सफल लोग अपने Talent अपनी प्रतिभा को पहचान लेते हैं जबकि असफल लोग ऐसा नहीं कर पाते|
मित्रों अगर कोई Topic और आप इस Article में जोड़ना चाहते हैं तो अपने विचार नीचे कॉमेंट में हमें लिखे और आपको ये Tips कैसे लगे ये बताना बिलकुल ना भूलें।

Advertisements

Leave a Reply

Fill in your details below or click an icon to log in:

WordPress.com Logo

You are commenting using your WordPress.com account. Log Out / Change )

Twitter picture

You are commenting using your Twitter account. Log Out / Change )

Facebook photo

You are commenting using your Facebook account. Log Out / Change )

Google+ photo

You are commenting using your Google+ account. Log Out / Change )

Connecting to %s