short hindi stories

Happiness..Hindi story

एक बच्चा गला देने वाली सर्दी में नंगे पैर गुलदस्ते बेच

रहा

था

.

लोग उसमे भी मोलभाव कर रहे थे।

.

एक सज्जन को उसके पैर देखकर बहुत दुःख हुआ, सज्जन

ने बाज़ार से नया जूता ख़रीदा और उसे देते हुए कहा

“बेटा

लो, ये जूता पहन लो”

.

लड़के ने फ़ौरन जूते निकाले और पहन लिए

.

उसका चेहरा ख़ुशी से दमक उठा था.

वो उस सज्जन की तरफ़ पल्टा

और हाथ थाम कर पूछा, “आप भगवान हैं?

.

“उसने घबरा कर हाथ छुड़ाया और कानों को हाथ

लगा कर

कहा, “नहीं बेटा, नहीं, मैं भगवान नहीं”

.

लड़का फिर मुस्कराया और कहा,

“तो फिर ज़रूर भगवान के दोस्त होंगे,

.

क्योंकि मैंने कल रात भगवान से कहा था

कि मुझे नऐ जूते देदें”.

.

वो सज्जन मुस्कुरा दिया और उसके माथे को प्यार से

चूमकर अपने घर की तरफ़ चल पड़ा.

.

अब वो सज्जन भी जान चुके थे कि भगवान का

दोस्त होना

कोई मुश्किल काम नहीं..

.

खुशियाँ बाटने से मिलती है 💕

No feeling is more greater than to be a reason for someone else happiness

Advertisements

Leave a Reply

Fill in your details below or click an icon to log in:

WordPress.com Logo

You are commenting using your WordPress.com account. Log Out / Change )

Twitter picture

You are commenting using your Twitter account. Log Out / Change )

Facebook photo

You are commenting using your Facebook account. Log Out / Change )

Google+ photo

You are commenting using your Google+ account. Log Out / Change )

Connecting to %s