short hindi stories

Vishwas

​ एक छोटे से कस्बे में एक आदमी ने बार बिजनेस शुरू करने की सोची! जो जगह उसने बार खोलने के लिए चुनी वह बिल्कुल मंदिर के सामने थी! मंदिर कमेटी ने इस बात का बड़ा विरोध किया कि वहां पर बार कतई नहीं खुलना चाहिए! मंदिर के पुजारियों ने तो आत्मदाह तक करने की… Continue reading Vishwas

Real stories of great people

Insaan 

इंगलैण्ड की राजधानी लंदन में यात्रा के दौरानएक शाम महाराजा जयसिंह सादे कपड़ों में बॉन्डस्ट्रीट में घूमने के लिए निकले और वहां उन्होने रोल्स रॉयस कम्पनी का भव्य शो रूम देखा और मोटर कार का भाव जानने के लिए अंदर चले गए। शॉ रूम के अंग्रेज मैनेजर ने उन्हें “भारत”का सामान्य नागरिक समझ कर वापस… Continue reading Insaan 

motivational stories

Insaan ki keemat

लोहे की दुकान में अपने पिता के साथ काम कर रहे एक बालक ने अचानक ही अपने पिता से पुछा – “पिताजी इस दुनिया में मनुष्य की क्या कीमत होती है ?” पिताजी एक छोटे से बच्चे से ऐसा गंभीर सवाल सुन कर हैरान रह गये. फिर वे बोले “बेटे एक मनुष्य की कीमत आंकना… Continue reading Insaan ki keemat

short hindi stories

Sabse saktishali insaan

​ एक पिता ने अपने बेटे की बेहतरीन परवरिश की। बेटा एक सफल इंसान बना और एक मल्टीनेशनल कम्पनी का CEO हो गया । शादी हुई और एक सुन्दर सलीकेदार पत्नी उसे मिली। बूढ़े हो चले पिता ने एक दिन शहर जाकर अपने बेटे से मिलने की सोची। वह सीधे उसके ऑफिस गया। भव्य ऑफिस,… Continue reading Sabse saktishali insaan

motivational stories

Acchai ka phayeda

Neki​ ​ बात अमेरिका के फिलेडेल्फिया राज्य की है. एक बार बहुत ही घनी रात में बहुत तेज बारिश हो रही थी. एक बुजुर्ग couple बारिश में बचने के लिए किसी होटल में एक कमरा ढूँढ़ रहे थे. रात बहुत हो चुकी थी. और बहार हालत कोई ख़ास अच्छी नहीं थी. ऐसे में वे एक… Continue reading Acchai ka phayeda

motivational stories

Fars se ars tak..Hindi story

Fears​ लंदन मेंएक चर्च है। यहां नियम था कि अगर किसी के पास हाईस्कूल की डिग्री नहीं है तो उसे नौकरी पर नहीं रखा जाएगा। एक बुजुर्ग पादरी इन नियमों के बहुत बड़े समर्थक नहीं थे। उन्हें समुदाय के लोग काफी पसंद करते थे। और वे भी लोगों का काफी ख्याल रखते थे। इन पादरी… Continue reading Fars se ars tak..Hindi story

Real stories of great people

Karuna..The legend batukeshwar dutt

सरदार भगत सिंह के साथ बम फेंक कर अंग्रेजी शासन की नींव हिला देने वाले महान क्रांतिकारी बटुकेश्वर दत्त बचपन से ही बेहद संवेदनशील थे। जब भी वह किसी गरीब को असहाय हालत में देखते, तो उनका हृदय करुणा से भर उठता। जरूरतमंद की सहायता के लिए वे हमेशा तैयार रहते थे। एक दिन जब वे स्कूल जा रहे थे तो रास्ते में उन्होंने एक भिखारी को बहुत दयनीय हालत में पड़े देखा। वह बीमार था और भूख-प्यास से तड़प रहा था।